[Register] WB Didi Ke Bolo Campaign Application Form|Online Registration

WB Didi Ke Bolo Portal – पश्चिम बंगाल की मुख्यम्नत्री श्रीमती ममता बनर्जी द्वारा 29 जुलाई 2019 को “दीदी के बोलो” पोर्टल की आधिकारिक शरुआत की गयी थी। आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से पश्चिम बंगाल के लोग मुख्यम्नत्री ममता बनर्जी तक अपने सुझाव, शिकायतों और अन्य प्रकार की समस्याएं साझा कर सकते है। मुख्यम्नत्री ममता बनर्जी द्वारा लिया गया यह फैसला बंगाल की सियासत में एक अहम् फैसला माना जा रहा है। इस आर्टिकल के माध्यम से हम Didi Ke Bolo Portal पोर्टल पर अपने विचार साझा करने की सरल प्रक्रिया के बारे में बताने जा रहे हैं।

पश्चिम बंगाल दीदी के बोलो ऑनलाइन शिकायत पोर्टल

पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा शुरू किये गए Didi Ke Bolo पोर्टल के माध्यम से बंगाल के लोग सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओ के प्रति अपने विचार, शिकायत तथा अन्य समस्याओ को साझा कर सकेंगे। मुख्यम्नत्री ममता बनर्जी ने लोगो की शिकायतों के निस्तारण के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किये है जिनके माध्यम से मुख्यम्नत्री ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल के नागरिकों के सुझाव, शिकायत  विचारो को स्वीकार करेंगी।  दीदी के बोलो अभियान के अंतर्गत ऑनलाइन पंजीकरण / आवेदन पत्र तथा हेल्पलाइन नंबर का विवरण निम्नलिखित है।

दीदी के बोलो पोर्टल पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की प्रतिक्रिया

“We are not starting our campaign now. A lot of time is left and there is work to be done. We wanted to provide a platform to the people so that they can share their concerns. People can directly get in touch with us on the helpline number and the website and speak about issues affecting them. We will try and address them“

Didi Ke Bolo अभियान की प्रमुख विशेषताएं –

Portal NameDidi Ke Bolo Portal
Launched bySmt. Mamta Banerjee (Chief Minister of WB)
Launch Date29 जुलाई 2019
Main MotiveKnow people's grievances
Start Date to Register your ComplainOpen
Beneficiary WB Citizens
Registration ModeOnline
Official Websitewww.didikebolo.com

WB Didi Ke Bolo पोर्टल का उद्देश्य

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो ममता बनर्जी द्वारा शरू किये गए किये गए “दीदी के बोलो” पोर्टल का उद्देश्य सरकार की योजनाओ के बारे में नागरिको के विचार तथा शिकायतों को स्वीकार करके आगामी विधानसभा चुनावो में पार्टी को मजबूत करना है। इस आधिकारिक पोर्टल पर “Didi Ke Bolo” अभियान के तहत एक वेबसाइट तथा  “9137091370” हेल्पलाइन नंबर लांच किया गया है।

अपने सुझाव,शिकायतों को www.didikebolo.com पर साझा करने के लिए चरण

  • जो भी बंगाल का नागरिक अपने शिकायत अथवा विचार दीदी के बोलो पोर्टल के माध्यम से सरकार तक पहुंचना चाहता है उसको सबसे पहले सरकार के आधिकारिक पोर्टल https://www.didikebolo.com/ पर जाना होगा।
Didi Ke Bolo Application Registration Form
  • दीदी के बोलो आधिकारिक पोर्टल पर आने के बाद “Scroll Down” करने पर आपको Campaign Grievance/Suggestion Registration Form दिखाई देगा।
Didi Ke Bolo Application Registration Form
  • इस शिकायत / सुझाव पंजीकरण फॉर्म में आपसे आपके सुझाव हेतु निम्नलिखित जानकारी मांगी जाएगी।
व्यक्ति का नाम जिला
लिंग आयु
व्यवसाय शैक्षणिक योग्यता
मोबाइल नंबर WhatsApp नंबर
ब्लॉक का नाम असेंबली कंसिस्टेंसी
क्षेत्र का प्रकार सुझाव का वर्णन
  • उपरोक्त फॉर्म में दी गयी सभी जानकारी तथा अपने विचारो का  पोर्टल पर वर्णन करने पर आप “SUBMIT” के लिंक पर क्लिक कर दे।

अब इस दीदी के बोलो पोर्टल के माध्यम से नागरिकअपनी राय, समस्या और किसी अन्य मुद्दे को दर्ज कर सकते हैं। दीदी के बोलो अभियान से पश्चिम बंगाल के लोग सीधे सीएम ममता बनर्जी से जुड़ सकेंगे। यह पोर्टल (www.didikebolo.com) लोगों को सरकार तक अपनी चिंताओं को सुनाने के लिए एक मंच प्रदान करेगी।इसके साथ ही टीएमसी पार्टी के नेता क्षेत्र के प्रभावशाली लोगों, बूथ कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए गांवों का दौरा करेंगे व नागरिको समस्या सुनेंगे।

(टीएमसी) दीदी के बोलो अभियान का क्रियान्वयन


(टीएमसी) सुप्रीमो ममता बनर्जी के दीदी के बोलो अभियान का कार्यान्वयन आने वाले 100 से 1000 दिनों के बीच किया जायेगा। इसके तहत चुने हुए पार्टी कार्यकर्ताओं एवं प्रतिनिधि बूथ स्तर पर गावों में आम लोगो से मिलकर पार्टी की योजनाओ का प्रचार करेंगे। इस अभियान के तहत आम नागरिको की समस्याओ का भी समाधान किया जायेगा।

Official Portal Click Here
Helpline Number 9137091370
West Bengal Govt Scheme Click Here

West Bengal तथा Central Govt की अन्य योजनाओ की त्वरित जानकारियों के लिए अब अपने ब्राउज़र में हमेशा ACCONIX.IN ही टाइप करे।

Updated: August 14, 2019 — 11:34 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *